blogid : 12561 postid : 32

T20 World Cup 2012: क्या सच में हो गई हरभजन सिंह की वापसी !!

Posted On: 25 Sep, 2012 sports mail,social issues में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

harbhajan singh vs ashwinएक साल से भी ज्यादा समय तक टीम इंडिया से बाहर रहे ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने टी20 विश्व कप में युवा खिलाड़ियों से लबरेज इंगलैड के खिलाफ चार विकेट क्या ले लिए हर कोई उन्हें शानदार वापसी का प्रमाण पत्र देने लगा. मीडिया से लेकर स्वयं कप्तान महेद्र सिंह धोनी हरभजन की वापसी पर तारीफों के पुल बांधने लगे. वह भज्जी को चतुर गेंदबाज की संज्ञा भी देने लगे.


Read: विरोध करने का यह कैसा तरीका


बता दें कि रविवार को खेले गए इंग्लैंड के खिलाफ मैच में हरभजन सिंह ने 12 रन देकर चार विकेट लिए जो किसी भी भारतीय गेदबाज़ का टी20 में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. हरभजन के अलावा पीयूष और पठान की घातक गेंदबाजी की बदौलत भारत ने इंग्लैंड की टीम को 80 रन पर ऑल आउट कर दिया. लेकिन मीडिया में जिस तरह से टीम के योगदान को कम हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) के योगदान को ज्यादा तवज्जो दी जा रही है उससे तो यही लगता है कि आने वाले मैचों में हरभजन सिंह ने अपनी जगह को पक्का कर लिया है.


अब सवाल उठता है कि क्या क्रिकेट के छोटे फॉर्मेट से किसी खिलाड़ी की शानदार वापसी का सर्टिफिकेट जारी किया सकता है. क्या रविचंद्रन अश्विन के योगदान को भुलाया जा सकता है जिन्होंने लगातार प्रदर्शन करके क्रिकेट के हरेक फॉर्मेट में भारत को जीत दिलाई और जिनको लेकर यह संकेत दिए जा रहे हैं कि बचे हुए टी20 मैच में वह खेलेंगे या नहीं. भले ही हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) के पास अनुभव की भरमार हो लेकिन अश्विन ने भी लगातार अपने शानदार प्रदर्शन से लोगों की काफी वाहवाही बटोरी. आज भारतीय टीम को ऑलराउंडर की दरकार है और अश्विन हरभजन की तुलना में एक अच्छे ऑलराउंडर साबित हो रहे हैं. वह गेंदबाजी तो शानदार करते ही हैं उनकी फील्डिंग और बैटिंग भी हरभजन की अपेक्षा काफी बेहतर है.


हम यह क्यों भूलते हैं कि टी20 विश्व कप में हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने जिस टीम के खिलाफ चार विकेट लिए हैं वह टीम कभी भी सहजता के साथ स्पिनरों को खेल ही नहीं पाती. अगर इंग्लैंड के बल्लेबाजों के सामने बांग्लादेश का कोई स्पिनर भी आ जाए तो ये बल्लेबाज वहां भी अपने आप को असहज महसूस करेंगे. एक बात और इंग्लैंड की वर्तमान टीम में इक्का-दुक्का ही ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके पास अनुभव था बाकि सभी खिलाड़ी नए हैं जिनके पास स्पिनरों को खेलने का कोई अनुभव नहीं है. इसलिए हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) की टीम में वापसी की बात उस समय तक स्वीकारा नहीं जा सकती जब तक वह इसी प्रदर्शन को आगे भी जारी नहीं रखते.


Post Your Comment:  क्या हरभजन सिंह के प्रदर्शन को शानदार वापसी का तमगा दिया जा सकता है?


Read: Match Review: इंग्लैंड की टीम में अनुभव की कमी दिखी


Tag: भारत-इंग्लैण्ड, टी20, हरभजन सिंह, पियूष चाववा, कोलंबो, सुपर आठ, विश्व कप, टी20 विश्वकप, india, england, t20, t20 world cup, Colombo, ravichandran ashwin, Harbhajan Singh, Indian Cricket Team,  T20 World Cup, India cricket, England cricket, harbhajan singh vs ashwin.




Tags:                                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran